खुश रहने के मंत्र (Mantra to be Happy)

दोस्तों आज के इस समय में हर वर्ग के लोग अपने काम के कारण  या अन्य कारणों से जीवन का सबसे मूल चीजो को भुल रहे है, जिसमे से एक है खुश रहना, लोग पैसा तो बहुत कामा रहे है पर उनके अन्दर वो सुकून नही है, वो शांति नही है! वर्गो को दिखाने के लिये तो पैसे बहुत है पर जीवन का मूल नही है" वो ख़ुशी नही है!"

इसलिए मै आपको खुश रहने के मंत्र बाताने की कोशिश करता हु जिसका उपयोग आप कर सकते है!

   खुश रहने के मंत्र

1. अपने सकल्प को पूर्ण  करे :- जो भी लक्ष्य आपने अपने लिये तय किया है उसे पूरा करना, उससे  बड़ी ख़ुशी और क्या होगी ! जो की हम जानते है की सब कुछ हमारे मुताबिक नही चलता पर हम अपने लक्ष्य के लिये मेहनत तो कर ही सकते है उस पर बढ़ चढ़ कर प्रयास तो कर ही सकते है, फिर हम देखते है की हमारे मेहनत पर ही हमे ख़ुशी मिलती है!

2. दूसरो की मदद कर के :-  हम जीवन में अपना काम तो करते है ही, पर कभी अपने दुसरो की मदद करके देखा है, मदद की भी अपनी अलग ख़ुशी है जो दिल से आती है! इसलिए हमेशा दुसरो की मदद के लिये तत्पर रहो !

3. अपनी क्षमता को पहेचाने :- हमे कभी भी दुसरो को देख कर उसकी तुलना नही करनी चाहिये तथा  अपनी क्षमता को पहेचान कर उस के मुतबिक कार्य करना चाहिये ! जिस दिन हम यह दुसरो की तुलना अपने से करना बद कर देगे और अपनी क्षमता के स्वरूप कार्य करेगे उस दिन हमे असली ख़ुशी प्राप्त होगी !

4. एक्सरसाइज़  करके :-  खुश रहने का सबसे अच्छा तरीका हैं एक्सरसाइज़ ! आप अक्सर देखते होगे की जो व्यक्ति एक्सरसाइज़ करता है वो औरो के मुकाबले ज्यादा खुश रहेता है ! एक्सरसाइज़ करने से क्रानिक डिप्रेशन ख़त्म होता है क्योकि मस्तिष्क में सिरेटोनिन का स्रोत बढाता है जो मस्तिष्क  को अच्छा महसूस करवता  है !


ये तो कुछ टिप्स है खुश रहने के  पर आप खुश रहेगे तो सब खुश रहेगे  इसलिए खुश रहो खुश रखो और अंत में फिट रहो हिट रहो 
Previous Post
Next Post
Related Posts

0 Comments:

please do not enter any spam link in the comment box